अब तक इटली से भी ज्यादा मौतें अमेरिका में, 20499 पहुंचा आंकड़ा, भयावह हो चुके हालात – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
देश विदेश

अब तक इटली से भी ज्यादा मौतें अमेरिका में, 20499 पहुंचा आंकड़ा, भयावह हो चुके हालात

कोरोनावायरस से अमेरिका में इटली से भी ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. मरने वालों की संख्या 20499 पर पहुंच गई है. जबकि इटली में अब तक कुल 19,468 मौतें हुई हैं. अमेरिका में पिछले 24 घंटों में 2,108 लोगों की मौत होने के बाद वह विश्व का पहला ऐसा देश है जहां एक ही दिन में कोविड-19 से 2,000 से ज्यादा मौत हुई हो. जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमित व्यक्तियों के लिहाज से भी अमेरिका विश्व में सबसे ऊपर है और यहां संक्रमितों की संख्या 5,00,000 के पार पहुंच गई है.

बता दें कि यूरोप और अमेरिका में फैलने से पहले पिछले साल दिसंबर में चीन में शुरू हुए कोरोनावायरस के प्रकोप ने वहां अब तक 3,339 लोगों की जान ली है और कुल 81,000 लोगों को संक्रमित किया है. स्पेन में 16,000 से ज्यादा लोगों की और जर्मनी में करीब 13,000 लोगों की मौत हुई है।

कहा जा रहा है कि अमेरिका में संक्रमितों की संख्या अन्य शीर्ष देशों के आंकड़ें साथ मिला देने से भी ज्यादा हैं. स्पेन में संक्रमितों की संख्या 1,58,000, इटली में 1,47,000, जर्मनी में 1,22,000 और फ्रांस में 1,12,000 है।

कोविड-19 मृतकों के केंद्र के तौर पर उभरे न्यूयॉर्क में कुल 1,70,000 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है जो किसी अन्य देश से ज्यादा है. न्यूयॉर्क में कोरोनावायरस से 7,800 से अधिक लोगों की मौत हुई है. वहीं न्यू जर्सी में करीब 2,000 मौत हुई है और 54,000 से अधिक संक्रमित हैं.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के विषय पर व्हाइट हाउस कार्यबल के सदस्यों ने अमेरिका में एक से दो लाख लोगों की मौत का अनुमान जताया था. एक ओर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि मौत के लिहाज से यह हफ्ता “ भयावह, अत्यंत भयावह” होने जा रहा है वहीं अमेरिकी सर्जन जनरल जेरोम एडम्स ने कहा था कि यह हफ्ता देश की 9/11 और पर्ल हार्बर जैसी भयावह यादें ताजा कर देगा.

राष्ट्रपति ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा था कि नये अनुमानों के तहत मृतकों का आंकड़ा 60,000 से नीचे रह सकता है. उन्होंने कहा, “यह यकीन करना बेहद मुश्किल है कि अगर आपके यहां 60,000 मौत होती है, तो आप कभी खुश नहीं हो सकते लेकिन यह जितना हमें शुरू में बताया गया था और हम सोच रहे थे उससे बहुत-बहुत कम है. उन्होंने कहा था कि कम से कम 100 से 2,20,000 के बीच मौत होगी और अगर हम कुछ नहीं करते तो यह 22 लाख तक पहुंच सकता है. लेकिन यह लोगों के अद्भुत संकल्प को दिखाता है.”

उस प्रेसिडेंट ट्रंप ने इसे राष्ट्रीय आपदा की घोषणा की है और लगभग सभी 50 राज्यों के लिए बड़ी आपदा की घोषणा अधिसूचित की है तथा 33 करोड़ आबादी में से 95 प्रतिशत से अधिक घरों के भीतर रहने के आदेश के तहत जीवन बिता रहे हैं। हालांकि कुछ अमेरिकी राज्यों ने घरों पर रहने संबंधी आदेश जारी करने से मना कर दिया है. ईश्वर के संरक्षण में भरोसा जताते हुए और अर्थव्यवस्था को बचाए रखने का रुख अपनाते हुए इन राज्यों ने यह आदेश जारी करने से इनकार कर दिया है।

Related Articles

Back to top button