Breaking news – अस्पताल में अचानक ऑक्सीजन रुकने से 4 मरीजों की मौत, पुलिस ने शुरू की जांच – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
देश विदेश

Breaking news – अस्पताल में अचानक ऑक्सीजन रुकने से 4 मरीजों की मौत, पुलिस ने शुरू की जांच

देश में कोरोना काल के बीच अब ऑक्सीजन की भारी कील्लत देखने को मिल रहा है। आए दिन लोग सांस खरीदने के लिए घंटों इंतार कर रहे है। तो कोई अस्पताल में भर्ती होने के लिए एंबुलेंस में बाहर इंतजार कर रहे है। इसी बीच खबर आ रही है कि जम्मू के बड़े अस्पतालों में एक बत्रा अस्पताल में आज ऑक्सीजन सप्लाई बंद होने से चार मरीजों की मौत हो गई। बता दे की अस्पताल प्रशासन ने दावा किया है कि अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई को दोबारा बहाल कर दिया गया है।

READ ALSO –देशभर में मनाया जा रहा गुरु तेग बहादुर के आज 400वें प्रकाश पर्व, पीएम मोदी ने शीशगंज साहिब गुरुद्वारे पहुंचकर टेका मत्था

इस अस्पताल में कोरोना मरीजों के साथ-साथ कुछ सामान्य मरीजों का भी इलाज चल रहा था। लेकिन, शनिवार तड़के अस्पताल की ऑक्सीजन सप्लाई बाधित होने से 4 मरीजों ने दम तोड़ दिया। मृतकों के परिजनों का आरोप है कि अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई एकदम से रुकी और यहां इस ऑक्सीजन सप्लाई पर सांस ले रहे 4 मरीजों ने दम तोड़ दिया। अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई रुकने से हुई इन मौतों से गुस्साए परिजनों ने अस्पताल परिसर में हंगामा किया।

आप देख सकते है की अपनों के बिछड़ने का गम इन परिजनों के चेहरों पर साफ दिखाई दे रहा था और इनका गुस्सा अस्पताल प्रशासन पर फूटा। परिजन यह भी आरोप लगा रहे हैं कि काफी समय तक अस्पताल प्रशासन ने उनसे मृतकों की मौत की असली वजह को छुपाया और इनमें से कुछ मरीजों की मृत्यु का कारण हार्ट अटैक बताया। लेकिन, परिजनों के हो रहे हंगामे के बाद पुलिस और प्रशासन हरकत में आई। फिर अस्पताल प्रशासन ने यह माना कि कुछ देर के लिए ऑक्सीजन सप्लाई प्रभावित हुई थी जिसे तुरंत ही दूर कर लिया गया। वहीं पुलिस ने भी दावा किया है कि अस्पताल में भर्ती 4 लोगों की मौत हुई है और वह मौत के कारणों की जांच कर रहे हैं।

READ ALSO – ब्रेकिंग न्यूज़ – हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय कुमार सेठ का COVID-19 से निधन

आप को बता दें, बत्रा अस्पताल जम्मू का एक बड़ा अस्पताल है जहां पर न केवल कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज हो रहा है बल्कि यहां पर सामान्य मरीजों को भी देखा जा रहा है। जम्मू कश्मीर में रोजाना 3000 से अधिक करोना संक्रमित मामले दर्ज किए जा रहे हैं और इस आंकड़े पर काबू पाने के लिए प्रशासन ने गुरुवार से प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू घोषित कर रखा है।

Related Articles

Back to top button