सीएम भूपेश बघेल की वर्चुअल बैठक: 32 हजार सिंचाई पंपों के लिए बिजली कनेक्शन का टेंडर – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
छत्तीसगढ़रायपुररायपुर संभाग

सीएम भूपेश बघेल की वर्चुअल बैठक: 32 हजार सिंचाई पंपों के लिए बिजली कनेक्शन का टेंडर

रायपुर सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि प्रदेश के 32 हजार सिंचाई पंपों को बिजली कनेक्शन देने के लिए टेंडर की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। लॉकडाउन की स्थिति सामान्य होते ही किसानों को कनेक्शन देने का काम शुरू कर दिया जाएगा। सीएम भूपेश ने बिजली कंपनियों के मैदानी अमले के अधिकारी-कर्मचारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा कर उनके कार्यों और उनकी समस्याओं की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी अधिकारी-कर्मचारी कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करें। अपने और अपने परिवार की सुरक्षा का ध्यान रखकर कार्य करें। मुख्यमंत्री ने कोरबा जनरेशन कंपनी के अधिकारियों से प्लांट के संचालन के बारे में जानकारी ली।

READ ALSO – गरियाबंद : पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं पर हो रहे हिंसा के खिलाफ नपा अध्यक्ष एवं भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने घरों के सामने प्रदर्शन कर विरोध जताया

उन्होंने कहा कि बिजली उत्पादन का कार्य महत्वपूर्ण है। यदि किसी को सर्दी-बुखार हो तो उन्हें अलग रखें, ताकि संक्रमण से बचा जा सके। ऐसे व्यक्ति का इलाज कराएं। बता दे कि प्लांट में बाहरी व्यक्ति को प्रवेश न दें। सीएम बघेल ने कोयला आपूर्ति की भी जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि पर्याप्त कोयला उपलब्ध है। आप को बता दे कि बैठक में सीएस अमिताभ जैन, एसीएस सुब्रत साहू, सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, विशेष सचिव अंकित आनंद और दुर्ग, रायपुर, कोंडागांव, जांजगीर-चांपा, बस्तर, महामुंद, गरियाबंद, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही, रायगढ़, कांकेर, बालोद और कोरबा जिले के बिजली विभाग के मैदानी अमला शामिल हुआ।

READ ALSO – छत्तीसगढ़ – ऑफिस में जहरीले सैनिटाइजर का चल रहा था कारोबार, सैंपल जांच में मिला मिथाइल अल्कोहल

सभी कर्मचारियों को दे रहे मेडिकल एडवांस : अधिकारी-कर्मचारियों ने 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का कोविड टीकाकरण कराने का आग्रह मुख्यमंत्री से किया। इस पर सीएम ने कहा कि वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर तेजी से वैक्सीनेशन किया जाएगा। बता दे कि एक मई को वैक्सीन की मात्र डेढ़ लाख डोज प्राप्त हुई, जबकि इस आयु समूह में 1.35 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन किया जाना है। मिली जानकारी के अनुसार बिजली कंपनी के अध्यक्ष अंकित आनंद ने बताया कि कोविड संक्रमित अधिकारी-कर्मचारियों को इलाज के लिए कुल आंकलित खर्च की 90 फीसदी राशि मेडिकल एडवांस के रूप में दी जा रही है, जबकि संविदा कर्मचारियों को 50 हजार रुपए तक मेडिकल एडवांस दिया जा रहा है।

Related Articles

Back to top button