1 मिनट में 4 लोग होते हैं सैनिटाइज स्वचालित सैनिटाइजिंग टनल में, रायपुर के छात्र ने बनाया ऐसे – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
छत्तीसगढ़रायपुररायपुर संभाग

1 मिनट में 4 लोग होते हैं सैनिटाइज स्वचालित सैनिटाइजिंग टनल में, रायपुर के छात्र ने बनाया ऐसे

कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकार हर मुमकिन प्रयास कर रही हैं। वहीं अन्य सरकारी और गैर सरकारी संस्थाएं भी इस विषम परिस्थिति में अपना अहम योगदान दे रही हैं। इसमें इंजीनियरिंग और मेडिसिन विभाग के लोगों की ब2डी भूमिका है। इसी क्रम में रायपुर स्थित श्री शंकराचार्य इंस्टिट्यूट ऑफ प्रोफेशनल मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉली (एसएसआइपीएमटी) के छात्र सागर साहू ने वर्कशॉप के कर्मचारियों की मदद से नया ईजाद किया है।

इसमें उन्होंने स्वचालित सैनिटाइजिंग टनल बनाकर कोरोना की जंग में लड़ने के लिए एक महत्वपूर्ण हथियार प्रदान किया है। आपको बता दें कि यह स्वचालित सैनिटाइजिंग टनल संस्था के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग ने मात्र दो दिनों के प्रयास में तैयार किया है, जो आटोमेटिक है, जब कोई व्यक्ति इस टनल के अंदर से गुजरता है तो यह आटोमेटिक चालू हो जाता है एवं उसे सैनिटाइज करने के बाद फिर बंद हो जाता है। इस सैनिटाइजिंग टनल की क्षमता एक मिनट में पांच लोगों को सैनिटाइज करने की है।

मैकेनिकल इंजीनियरिंग के विभागाध्यक्ष प्रो. अतुल चक्रवर्ती ने बताया कि इस यंत्र में ऑप्टिक सेंसर्स लगे हए हैं, जिनकी मदद से यह काम करता है। उन्होंने बताया कि आवश्यकतानुसार इस टनल की क्षमता बढ़ाई जा सकती है। सैनिटाइजिंग टनल के निर्माण में मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग के छात्र सागर साहू और वर्कशॉप के कर्मचारियों का विशेष योगदान है।

संस्था के चेयरमैन निशांत त्रिपाठी ने बताया कि अगर प्रशासन का सहयोग मिले तो सरकारी या गैर सरकारी संस्थाओं की मांग पर इस यंत्र को कम समय में एवं बड़ी संख्या में इंस्टिट्यूट बना सकता है। उन्होंने कहा कि हमारी संस्था टेक्नोलॉजी, इनोवेशन , शिक्षा की गुणवत्ता एवं शोध के साथ साथ समाजोपयोगी कार्यों के लिए लोकप्रिय है। हमारी कोशिश है कि हम समाज को बेहतर सेवाएँ देते रहें। आज इस संकट की घडी में ऐसे यंत्रों की नितांत आवश्यकता को देखते हुए इस सैनिटाइजिंग टनल को बनाने का काम संस्था ने किया है। जरूरत पड;ने पर आगे भी बनाया जा सकता है।

Related Articles

Back to top button