राजनांदगांव – आज से 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने की शुरुआत की गई – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
छत्तीसगढ़दुर्ग संभागराजनांदगाव

राजनांदगांव – आज से 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने की शुरुआत की गई

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्र शासन के गाइडलाइन के बाद आज 1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने की शुरुआत की गई है। इसके साथ ही वैक्सीन लगाने के प्रति लोगों में जागरूकता भी बढी़ है। यही वजह है कि बड़ी संख्या में लोग वैक्सीनेशन सेंटर तक पहुंच रहे हैं ।

कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए अब तक कोरोना वैक्सीन नहीं लगाने वाले लोग भी जागरूक हुए हैं, वहीं केंद्र शासन की गाइडलाइन के तहत 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को 1 अप्रैल से कोविड-19 वैक्सीन लगाने की शुरुआत की गई है , जिसके तहत राजनांदगांव जिले में बने 131 वैक्सीनेशन सेंटर में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। कोरोना से बचाव के लिए इस टीकाकरण की आवश्यकता को समझते हुए बड़ी संख्या में लोग वैक्सीनेशन सेंटर तक पहुंच रहे हैं और कोरोना से बचने का टीका लगाकर दूसरों को भी टीका लगाने की अपील कर रहे हैं।

कोरोना वैक्सीन लगाने पहुंची गृहाणी मंजू लता सोनी ने कहा कि कोरोना वैक्सीन 45 पार के लोगों को लगने की सूचना से उन्हें 1 अप्रैल का इंतजार था और आज सुबह ही वे कोरोना वैक्सीन लगाने वैक्सीनेशन सेंटर पर पहुंची हैं। वहीं प्रदेश कांग्रेस की सचिव कुसुम दुबे ने भी कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण कराते हुए 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों से टीकाकरण कराने की अपील की है।

कोरोना की गंभीर स्थिति को देखते हुए लोगों में इससे बचाव के लिए टीकाकरण कराने की जागरूकता भी दिखाई दे रही है, यही कारण है कि टीकाकरण की शुरुआत होने के बाद 20-30% लोग ही टीकाकरण करा रहे थे लेकिन अब यह संख्या बढ़कर 80/85 फ़ीसदी तक पहुंच गई है। टीकाकरण को लेकर राजनांदगांव के मुख्य स्वास्थ एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ मिथिलेश चौधरी का कहना है कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण करने जिले में 131 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं, 45 वर्ष से अधिक उम्र के 3 लाख 50 हजार लोगों को टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। जिसमें से 60 हजार लोगों को टीकाकरण किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि 15-20 दिनों में टीकाकरण करने का लक्ष्य पूरा कर लिया जाएगा।

राजनांदगांव जिले के विभिन्न टीकाकरण केंद्रों में कोवैक्सीन और कोविशिल्ड लगाया जा रहा है। पहला डोज़ लगने के 42 दिन बाद दूसरा डोज़ लगाया जाएगा। कोविड-19 वैक्सीन लगाने के बाद भी कोरोना पॉजिटिव होने का मामला भी सामने आया है लेकिन उनमें गंभीर स्थिति उत्पन्न नहीं हो रही है। वहीं जिन लोगों ने वैक्सीनेशन नहीं कराया है उनमें से अधिकांश लोगों को ऑक्सीजन प्रणाली पर रखना पड़ रहा है।

राजनांदगांव जिले के कोविड-19 अस्पताल के सभी बेड फुल हो चुके हैं। बीते बुधवार को ही राजनांदगांव जिले में 447 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है। प्रतिदिन कोरोना संक्रमितों का यहां आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। राजनांदगांव जिले की बात की जाए तो अब तक 22692 लोग कोरोना पॉजिटिव हुए हैं, जिसमें से 20718 लोग कोरोना को मत देकर ठीक हुए हैं। वहीं 213 लोगों ने इस महामारी में अपनी जान गवा दी है। राजनांदगांव जिले में बुधवार तक कुल 1761 एक्टिव प्रकरण दर्ज किए गए हैं, ऐसे में शासन प्रशासन के द्वारा 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों से जल्द से जल्द वैक्सीनेशन कराने की अपील भी की गई है।

Related Articles

Back to top button