रायपुर जिले के प्रभारी मंत्री चौबे एवं स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु ली बैठक – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
छत्तीसगढ़रायपुररायपुर संभाग

रायपुर जिले के प्रभारी मंत्री चौबे एवं स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु ली बैठक

टेस्टिंग अस्पतालों में बिस्तरों की उपलब्धता में तेजी लाने के दिए निर्देश स्वास्थ्य विभाग जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा किए जा रहे उपायों की समीक्षा कोविड अप्रोप्रियेट बिहेवियर का हो पालन रायपुर जिले के प्रभारी मंत्री रविंद्र चैबे एवं स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने आज यहां सिविल लाइन स्थित न्यू सर्किट हाउस के सभाकक्ष में कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु राज्य शासन के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक ली तथा स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन ,पुलिस प्रशासन तथा अन्य संबंधित विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा भी की।

READ ALSO – महात्मा गांधी नरेगा के तहत आवश्यक एवं स्थानीय उपयोगिता के कार्यों के प्रस्ताव शीघ्र भेजें अधिकारी- मुख्य सचिव

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि पूरे देश सहित अपने प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। विभाग ने गत वर्ष भी इस पर काबू पाने के सभी उपाय किए थे औश्र सफल भी हुए थे अब फिर उन्ही गाइडलाइन्स का कड़ाई से पालन करने की जरूरत है विशेष कर रायपुर दुर्ग और बेमेतरा जिले में जहां पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ रही है इसे रोकने के लिए टेस्टिंग बढाने कान्टेक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि रायपुर जिले में मरीजों केा अधिक आक्सीजीनेटेड बेड की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जाए।

READ ALSO – छत्तीसगढ़ – कलेक्टर ने जारी कि नई गाइडलाइन, बसों में करना होगा इन नियमों का पालन

उन्होंने कलेक्टर से जिले में इस हेतु किए जा रहे कार्याें की जानकारी भी ली साथ ही होम आइसोलेशन मे रह रहे मरीजों की समुचित मानिटरिंग की जाए और समय पर उन्हे दवाई मिल जाए, यह भी आवश्यक है उन्होंने कहा कि अभी टीकाकरण का कार्य अच्छा हो रहा है और सरकारी केन्द्रों में सेशन साइट संचलित करने के संबंध में राज्य का स्थान देश में चैथा है टीकाकरण के साथ ही लोगों को यह भी समझाना होगा कि वैक्सीन की एक डोज या दोनों डोज लगने के बाद भी मास्क लगाना और अन्य कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन करना अनिवार्य है अन्यथा वैक्सीनेटेड व्यक्ति को भी संक्रमण हो सकता है

भले ही उसकी तीव्रता बहुत ज्यादा न हो और वह दूसरों को संक्रमित भी कर सकता है कृषि मंत्री एवं रायपुर जिले के प्रभारी मंत्री रविंद्र चैबे ने सभी विभागीय अधिकारियों को कठिन परिस्थिति में समर्पित भाव से कार्य करने के लिए सराहना की उन्होंने कहा कि परिस्थिति अनुरूप जिले के कलेक्टर डीएमएफ एवं सीएसआर मद की राशि का उपयोग कर सकते हैं उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन में नियमों का अधिक कड़ाई से पालन हो और नियमित रूप से पुलिस की पेट्रोलिंग हो। बिना मास्क के सार्वजनिक स्थलों में आने वाले लोगों से चालान काट कर फाइन वसूली जाए। बैठक में होम आइसोलेशन की मॉनिटरिंग की व्यवस्था मुख्यमंत्री द्वारा कोरोना संक्रमण की प्रचार की रोकथाम के लिए परिस्थिति अनुरूप कलेक्टर को लॉकडाउन के संबंध में निर्णय लेने के निर्देश दिए गए मोबाइल मेडिकल यूनिट के माध्यम से टीकाकरण टारगेट ग्रुप को वैक्सीन लगाने मानव संसाधन की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने रायपुर जिले में अन्य जिलों का भी दबाव, भीड़भाड़ एवं बाजार को कैसे नियंत्रित किया जाए कोविड – एप्रोप्रियेट बिहेवियर प्रशासन एवं पुलिस द्वारा सख्ती बरतने की जरूरत एनजीओ की मदद लेने टेस्ट किट एवं टीका के लिए वैक्सीनेशन की उपलब्धता ग्रामीण अंचल की स्थिति अस्पतालों में आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए रायपुर नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर ने टीकाकरण पर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता बताई उन्होंने कहा कि सभी टीकाकरण केंद्रों में टारगेट पूरे होने चाहिए बैठक में अपर मुख्य सचिव श्रीमती रेणु जी पिल्ले ने बताया कि विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं जांच की संख्या बढाने और कान्टेक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने के लिए जिलों को निर्देश दिए गए है।

READ ALSO – रायपुर – कलेक्टर ने कोरोना मरीजों को आपात स्थिति में हॉस्पिटल पहुंचाने के लिए निःशुल्क एबुलेंस की व्यवस्था, साथ में 6 अधिकारी भी नियुक्त किये

इसके अलावा होम आइसोलेशन की व्यवस्था को ओैर मजबूत करने को कहा गया है सभी जिलों में कोविड अनुकूल व्यवहार के पालन पर और ध्यान देना होगा रष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ प्रियंका शुक्ला स्वास्थ्य ने प्रदेश के अस्पतालों कोविड केयर सेंटर में उपलब्ध बेड की जानकारी दी उन्होने बताया कि राज्य के डेडिकेटेड कोविड 33 अस्पतालों में कुल 4051 बेड हैं जिसमें 1341 आक्सीजीनेटेड, 438 एच डीयू और 440 आई सीयू बेड हैं। 65 कोविड केयर सेंटर में 8780 कुल बेेड में 1087 आक्सीजीनेटेड बेड हैं। इसके अलावा 78 निजी अस्पतालों में 3134 बेड हैं 1052 आक्सीजीनेटेड, 450 एच डीयू और 720 आई सीयू बेड हैं जिसे और बढ़ाया जा रहा है बैठक में स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती शहला निगार, विशेष सचिव डाॅ सी आर प्रसन्ना संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड ने अपने – अपने वर्टीकल के कार्याें की जानकारी दी।

READ ALSO – छत्तीसगढ़ पहुंचा देश में प्रतिदिन 10 लाख जनसंख्या पर COVID Test करने में तीसरे स्थान पर


कलेक्टर डॉ एस भारतीदासन ने जिला प्रशासन द्वारा किए जा रही सभी गतिविधियों के बारे में अवगत कराया उन्होंने बताया कि आइसोलेशन एवं कोविड केयर सेंटर बनाने हेतु 5 भवन अधिग्रहित किए गए है जिसमें नया रायपुर के पं दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्वास्थ्य विज्ञान एवं आयुष विश्वविद्यालय भवन स्टेट इंस्टीट्यूट आफ हेल्थ होटल मैनेजमेंट सेक्टर 40 नया रायपुर वर्किंग विमेन हॉस्टल वीआईपी रोड फुडहर प्रयास बालिका छात्रावास गुढ़ियारी और प्रयास बालक छात्रावास सडडु शामिल हैं। इनसे जिले में आइसोलेशन बेड की संख्या भी बढ़ेगी उन्होंने बताया कि अभी तक जिले 28 कंटेनमेंट जोन बन चुके हैं। कार्यों की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारी अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जा चुकी है जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ गौरव कुमार सिंह ने गांव एवं ग्रामीणों की अद्यतन स्थिति से अवगत कराया

Related Articles

Back to top button