गरियाबंद – कोरोना काल के दरम्यान एक हजार से अधिक घरो तक मदद पहुँचाने वाले समाज सेवको को भुल गया प्रशासन, नही है सुध – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
गरियाबंदछत्तीसगढ़रायपुर संभाग

गरियाबंद – कोरोना काल के दरम्यान एक हजार से अधिक घरो तक मदद पहुँचाने वाले समाज सेवको को भुल गया प्रशासन, नही है सुध

गिरीश गुप्ता गरियाबंद देवभोग –कोविद 19 वैश्विक महामारी के चलते कई बार लाकडाऊन की स्थिति में जहाँ सरकार ने गरीब मजदूर तपके के लोगो को केवल राशन मुहैया करायी वही देवभोग के कुछ समाजसेवको ने भी बढचढ कर लोगो की मदद किया! पूरे साल में कभी सप्ताहभर तो कभी महिनेभर के सम्पूर्ण लाकडाऊन में काम काज ठप्प होने के वजह से मजदूर घरो पर बैठ गये और रोजमर्रा मजदूरी कर जीवनयापन करने वाले इन मजदूरो के लिए सरकारी मदद काफी नही थी ऐसे मे समाजसेवीयो के मदद ने काफी कुछ सहारा दिया! पर स्थानीय प्रशासन ने इन मददगारो के सम्मान मे एक प्रशस्ति पत्र भी देना मुनासिब नही समझा।

मदद करने वालो में एक समाजसेवक और दो व्यापारी
कोरोना काल के भरी लाकडाऊन में जरूरतमंदो को राशन, कपडा, दवाई नवजात शिशु के पोषण आहार से लेकर बाहर के राज्य मे फँसे मजदूरो के घर वापसी के लिये मोहम्मद फिरोज ने कोविद रिलीफ फंड बनाकर आर्थिक मदद की तो वही इसमे सर्वाधिक मदद करने वालो में दैवभोग के दिनेश अग्रवाल और झाखरपारा के अनिल माहेश्वरी हैैं। हालाकि इसमे अन्य लोगो ने भी जमकर मदद किया है।

एक हजार से अधिक लोगो की मदद

कोविड रिलीफ समिति ने कोविद हास्पिटल में रोगियो को गीजर वाटर हिट मग,इंडक्शन चुल्हा पानी बोतल, योगा मेट सहित दवाई के लिये एक हजार का सहयोग किया !इस प्रकार कोरोना काल में एक हजार लोगो की मदद की मदद करने वाले समाजसेवीयो को प्रशासन भूल गया और उन्हें उनके मान रखने एक प्रशस्ति पत्र भी देना मुनासिब नही समझा!

Related Articles

Back to top button