कांग्रेस ने आय से अधिक संपत्ति मामले में डॉ. रमन सिंह और उनके बेटे पर FIR करने की मांग की, राज्यपाल से मिले प्रवक्ता – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
छत्तीसगढ़रायपुररायपुर संभाग

कांग्रेस ने आय से अधिक संपत्ति मामले में डॉ. रमन सिंह और उनके बेटे पर FIR करने की मांग की, राज्यपाल से मिले प्रवक्ता

छत्तीसगढ़ के पूर्व CM रमन सिंह के खिलाफ राजभवन में राज्यपाल अनुसुईया उइके से कांग्रेस प्रवक्ता RP सिंह ने शिकायत की है. कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने आरोप लगाया है कि पूर्व सीएम रमन सिंह ने भ्रष्टाचार से संपत्ति अर्जित की है. 10 साल में 1500 गुना आय अर्जित करने का आरोप लगाया है. साथ ही मामले में आयकर, ED और उच्च स्तरीय जांच की मांग की है.

READ ALSO – 8 महीने की गर्भवती नर्स लोगों का कर रही थी इलाज लेकिन खुद को नहीं मिला वेंटिलेटर, हो गई मौत

आप को बता दे की RP सिंह ने शिकायत कॉपी में कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य के कबीरधाम जिले के ग्राम ठाठापुर के मूल निवासी रमन सिंह 1998 के कवर्धा विधानसभा चुनाव में पराजय के पश्चात 2003 तक कर्ज में डूबे हुए थे. साधारण मध्यम वर्गीय परिवार के सदस्य एवं आयुर्वेदिक चिकित्सक के रूप में निजी प्रेक्टिस किया करते थे. उनकी पत्नी वीणा सिंह और पुत्र अभिषेक सिंह के आय का कोई अन्य साधन नहीं था. 2003 में वे मुख्यमंत्री बने. 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे. उनके कार्यकाल में राज्य में अनेकों घोटाले हुए.

READ ALSO – डॉ. आलोक शुक्ला को मिली महत्वपूर्ण जिम्मेदारी, सामान्य प्रशासन विभाग ने जारी किया आदेश

RP सिंह ने आरोप लगाया कि कोल घोटाला जिसकी जांच सीबीआई कर रही है. तब खनिज साधन विभाग के भारसाधक सदस्य के रूप में रमन सिंह स्वतंत्र प्रभार के रूप में मंत्री का कार्य कर रहे थे. इनके कार्यकाल में राज्य में स्थित अनेकों कोल ब्लॉकों का आबंटन आदेश छद्म रूप से किया गया. डॉ रमन सिंह के कार्यकाल में करोड़ो का ई-टेंडरिंग घोटाला हुआ था, जिसका आधार CAG की रिपोर्ट है.

RP सिंह ने आरोप लगाया कि इस प्रकरण में FIR दर्ज कर छत्तीसगढ़ राज्य की ACB-EOW द्वारा की जा रही है. ऐसी आशंका है कि अपने औऱ अपने परिवार के विभिन्न सदस्यगणों के नाम पर व्यापक रूप से भ्रष्टाचार करते हुए अर्जित की गई शासकीय धनराशि से ही डॉ. रमन सिंह द्वारा करोडों की अवैध संपत्ति अर्जित की गई है.

READ ALSO – कोरोना मरीजों और जरूरतमंदों के लिए शुरू की गई तीन योजना का शुभारंभ, सीएम भूपेश बघेल ने कहा, ऐसे ले सकते हैं लाभ

कांग्रेस प्रवक्ता का आरोप है कि यह विशेष रूप से बताया जाना आवश्यक हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के पुत्र अभिषेक सिंह वर्ष 2014 में राजनांदगांव जिले से सांसद बने। इस दौरान उनकी भी सम्पत्ति में अप्रत्याशित रूप से वृद्धि हुई और इनका नाम पनामा घोटाले में भी आया था. RP सिंह ने कहा कि पनामा घोटाले से संबंधित जो पेपर लीक हुए थे. उसमें इनका नाम अभिषाक सिंह के रूप में उल्लेखित था. पता कर्वधा स्थित इनके निवास का था. यहां यह बताना आवश्यक है कि पूर्व सांसद अभिषेक सिंह का वास्तविक नाम अभिषेक सिंह ही है. उनके द्वारा अपने अध्ययन जीवन के दौरान नाम परिवर्तित कर अभिषेक सिंह किया गया है.

Related Articles

Back to top button