छत्तीसगढ़ – कलेक्टर कांवरे ने ली अधिकारियों की वर्चुअल बैठक कहा- किसी को बख्शा नहीं जाएगा… – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
छत्तीसगढ़जशपुर

छत्तीसगढ़ – कलेक्टर कांवरे ने ली अधिकारियों की वर्चुअल बैठक कहा- किसी को बख्शा नहीं जाएगा…

कलेक्टर महादेव कावरे ने आज मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली और 45 वर्ष आयु वर्ग वाले लोगों के टीकाकरण प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने सभी एसडीएम, जनपद सीईओ, विकास खंड चिकित्सा अधिकारी, सरपंच सचिव , मितानी, कोटवारों, पटेल और छात्रावासों के अधिक्षक मंडल संयोजक की मदद लेकर टीकाकरण करने के निर्देश दिए हैं

READ ALSO – BREAKING NEWS – लॉकडाउन:सख्ती के बाद भी लोगों की लापरवाही जारी रही

बगीचा विकास खंड में टीकाकरण की धीमी प्रगति पर विकास खंड चिकित्सा अधिकारी के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए जवाब तलब किया। उन्होंने जिला टीकाकरण अधिकारी से जिले में उपलब्ध टीका की जानकारी ली। टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि जिले में वर्तमान में 4000 हजार 500 सौ डोज उपलब्ध है आज शाम तक जिले को 12 हजार डोज मिल जाएंगे जिसके साथ ही सभी विकास उनकी मांग के अनुसार टीका वितरण कर दिया जाएगा ।

बता दे की ऑनलाइन से जिला पंचायत सीईओ के एस मंडावी सभी एसडीएम जनपद सीईओ, मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी पी सुधार, डीपीएम गनपत नायक, जिला टीकाकरण अधिकारी आर एस पैकरा, सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के ई जिला प्रबंधक नीलांकर बासु और विकास खंड चिकित्सा अधिकारी सीधे जुड़े थे कलेक्टर ने टिकाकरण अधिकारी को विकास खंड की मांग के आधार पर प्राथमिक से टिका उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं ।

READ ALSO – कर्मचारी राज्य बीमा सेवा के 36 चिकित्सकों की ड्यूटी आगामी दो माह के लिए कोविड अस्पतालों में लगाई गई

उन्होंने बताया की टीकाकरण में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतनी की हिदायत दी है। अन्यथा कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि जिले में वरिष्ठ नागरिकों को 74 प्रतिशत 45 वर्ग वाले लोगों को 74 प्रतिशत और फ्रंटलाइन वर्कर को 86प्रतिशत टीकाकरण किया जा चुका है।

कलेक्टर ने कहा कि जिनका रिपोर्ट पाज़िटिव आ रहा है और उनके घर में अलग शौचालय, ऑक्सिमिटर और कमरे की सुविधा नहीं है तो उन्हें कोविड केयर सेंटर में रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को निर्धारित अवधि के उपरांत डिस्चार्ज किया जावे। साथ ही सभी विकास खंड चिकित्सा अधिकारी को एंटीजन टेस्ट की रिपोर्ट तत्काल आईडीएसपी पोर्टल में इंद्राज कराने के निर्देश दिए ।

READ ALSO – छत्तीसगढ़ – विधायक धनेन्द्र साहू ने मरीजों के लिए अस्पताल प्रबंधन को सौंपा नया एम्बुलेंस

रिपोर्ट की ऑनलाइन एंट्री मौके पर ही ऑपरेटर या लैब टेक्नीशियन के माध्यम से होना चाहिए, ताकि प्रतिदिन होने वाले टेस्ट की रिपोर्ट अपडेट होता रहें और सही जानकारी समय पर मिल सके। उन्होंने एसडीएम को निर्देश दिए हैं। जिन स्वास्थ्य केंद्र में ऑनलाइन एंट्री में दिक्कत आ रही है। वहां पर कम्प्यूटर आपरेटर की अतिरिक्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं या किसी जानकार व्यक्ति को एंट्री के कार्य में लगाने के निर्देश दिए हैं ।

उन्होंने कहा कि मोबाइल के माध्यम से भी एंट्री की जा सकती है। समीक्षा के दौरान कोविड-19 दवाई और किट की उपलब्धता की भी जानकारी ली और विकास खंड चिकित्सा अधिकारी वितरण करने वालों की संख्या के आधार पर जीवनदीप समिति या रेड क्रॉस मेडिकल स्टोर या सीजीएमएससी जैसा भी स्थिति हो प्राथमिकता से दवाई उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। दवाइयों की यदि किसी भी लेवल में कमी होती है तो जिले के स्टोर से मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी स्वयं मेडिसिन की व्यवस्था करवाएंगे। आज की समीक्षा में यह भी निर्देश दिया गया है कि रेमदेसीविर इंजेक्शन पत्थलगांव में भी मरीजों के लिए उपलब्ध कराया जाए और पत्थलगांव में समाज के लोग धर्मशाला को कोविड केयर सेंटर हेतु देना चाहते हैं उसकी भी तैयारी करने के निर्देश दिए हैं!

Related Articles

Back to top button