स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरगुजा ने लगाई ऊंची छलांग,स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव गौरवपूर्ण उपलब्धि पर जाहिर की प्रसन्नता – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
CGTOP36छत्तीसगढ़सरगुजासरगुजा संभाग

स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरगुजा ने लगाई ऊंची छलांग,स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव गौरवपूर्ण उपलब्धि पर जाहिर की प्रसन्नता

सोनु केदार- स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरगुजा ने ऊंची छलांग लगाई है। सरगुजा जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लुंड्रा को भारत सरकार के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट प्रदान किया गया है। सरगुजा के इतिहास में यह पहला अवसर है जब किसी शासकीय अस्पताल को गुणवत्तापरक स्वास्थ्य सुविधा और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मानकों पर शत-प्रतिशत खरा पाया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने इस गौरवपूर्ण उपलब्धि पर प्रसन्नता जाहिर की है। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर की चिकित्सा अधिकारी डा.राहेला समरीन व लुंड्रा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधिकारी वर्तमान में बीएमओ का कामकाज देख रहे डा.इमरान के नेतृत्व में सरगुजा ने यह उपलब्धि हासिल की है। भारत सरकार के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशा निर्देशन में गुणवत्ता परक स्वास्थ सुविधा के लिए नेशनल हेल्थ सिस्टम्स रिसोर्स सेंटर द्वारा नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट सर्टिफिकेट जारी किया जाता है। छत्तीसगढ़ प्रदेश में सबसे पहले सरगुजा जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर व लुंड्रा ने बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की वजह से इस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन किया था। दोनों प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के आवेदन को स्वीकार कर भारत सरकार द्वारा मूल्यांकन के लिए टीम का भी गठन कर दिया गया था।

मार्च 2020 में 16 से 19 तारीख के बीच टीम आने वाली थी। फ्लाइट से आने जाने का टिकट भी हो गया था लेकिन कोरोना संक्रमण की वजह से भौतिक सत्यापन नहीं हो सका था। उसके बाद छत्तीसगढ़ के दूसरे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों ने भी इस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन प्रस्तुत किया था। इसी वर्ष 19 व 20 फरवरी को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर तथा 22 व 23 फरवरी को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लुंड्रा में उपलब्ध सुविधाओं संसाधनों के अलावा स्वास्थ सुविधा को लेकर नेशनल हेल्थ सिस्टम्स रिसोर्स सेंटर द्वारा गठित टीम ने जांच की थी।

इस टीम में उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु के दो विशेषज्ञों के अलावा हरियाणा प्रदेश के एक पर्यवेक्षक की नियुक्ति की गई थी। वर्चुअल माध्यम से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रघुनाथपुर और लुंड्रा का निरीक्षण किया गया था। मानकों पर खरा उतरने की वजह से भारत सरकार के परिवार व स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय द्वारा दोनों अस्पतालों को खरा पाया गया। दोनों अस्पतालों को नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड सर्टिफिकेट के लिए चयनित कर लिया गया।

Related Articles

Back to top button