गर्भवती माताओं के लिए कोरोना से क्या हैं खतरें, जानिए इस सवाल का जवाब यहाँ – cgtop36.com | Cgtop36 Chhattisgarh exclusive news web portal
लाइफस्टाइल

गर्भवती माताओं के लिए कोरोना से क्या हैं खतरें, जानिए इस सवाल का जवाब यहाँ

कोरोना वायरस के मामले देश में लगातार बढ़ रहे हैं, माजूदा समय में संक्रमितों की संख्या 3200 को पार कर चुकी है। कोरोना वायरस से गर्भवती महिलाओं को भी काफी खतरा है। गर्भवती मादाओं को खतरा इसलिए भी है क्योंकि इनका इम्यूनिटी सिस्टम अन्य लोगों के मुकाबले ज्यादा कमजोर होता है। आइये यहाँ जानते हैं कोरोना से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातें –

कोरोना वायरस से लड़ने में कितना सक्षम है गर्भवती महिला का शरीर ?

गर्भावस्था हर महिला के लिए बेहद महत्वपूर्ण और नाजुक समय होता है, गर्भवती महिलाओं की छोटी-छोटी आदतें भी आने वाले शिशु पर गहरा प्रभाव डालती हैं. इस दौरान उनका इम्यूनिटी सिस्टम भी कमजोर होता है. गर्भावस्था के दौरान उनकी बीमारियों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है।

यह भी पढ़िए – लॉक डाउन में पति रहने लगा घर में तो खुला राज पत्नी के अफेयर का, करती थी अश्लील बातें, फिर

किन गर्भवती महिलाओं को हो सकता है वायरस से ज्यादा नुकसान?

ऐसी महिलाएं जो गर्भवती हैं लेकिन इसी के साथ उन्हें डायबिटीज और एनीमिया है, उन्हें ये वायरस जल्दी नुकसान पहुंचा सकता है। गर्भवती महिलाओं में एनीमिया का प्रभाव अधिक होता है. यदि ये होता है, तो उनका शरीर कमजोर पड़ जाता है और वह किसी भी प्रकार की बीमारी से लड़ने के लिए पूरी तरह से सक्षम नहीं हो पाती हैं. ऐसे में अगर ये वायरस ऐसी गर्भवती महिला को होता है तो इससे उनकी जान को खतरा भी हो सकता है।

यह भी पढ़िए – आजकल मिलने वाला पपीते का छिल्का भी है गुणकारी, उपयोग से दूर करें ये सभी चीजें

गर्भवती महिला के लिए कितना खतरनाक है कोरोना वायरस?

सामान्य से ज्यादा गर्भवती मादाओं को खतरा हो सकता है मतलब यह वायरस एक सामान्य व्यक्ति को जितना नुकसान पहुंचाएगा, उससे कहीं ज्यादा नुकसान एक गर्भवती महिला को पहुंचाएगा।

यह भी पढ़िए – कोरोना इफेक्ट – जनता कर्फ्यू के दिन हुवा बच्ची का जन्म, परिजनों ने नाम रखा कोरोना

क्रोना वायरस से संक्रमण से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं को अधिक सतर्क रहने की जरूरत है. क्योंकि आम इंसान की तुलना में कोई गर्भवती महिला इंफेक्शन की शिकार जल्दी हो जाती है. ऐसे में उन्हें ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है।

Related Articles

Back to top button